Rural Postal Life Insurance in Hindi | Point to Point | Gaindlal P Sahu


Rural Postal Life Insurance in Hindi | Point to Point

Rural Postal Life Insurance (ग्रामीण डाक जीवन बीमा): आज का दौर इंटरनेट का है। हमें लगभग सभी जानकारी इंटरनेट पर मिल जाती है। तो फिर पॉलिसी लेने में अथवा बीमा व इन्वेस्ट करने में जागरूक क्यों नहीं रहें, क्यों न सभी कंपनियों की प्रीमियम राशि व मैच्युरिटी राशि की जानकारी इंटरनेट से निकालकर उसकी तुलना कर सर्वोत्तम पॉलिसी खरीदें।

आज की तारीख में हम ऐसे कंपनी में बीमा/ इन्वेस्ट क्यों करें जिसमें एजेंट पल रहे हो। ऐसे कंपनी में बीमा/इन्वेस्ट क्यों करें जिसमें आपके भारी भरकम रकम एजेंटों की जेब में जाती हो। हम ऐसे कंपनी में बीमा/इन्वेस्ट क्यों करें जो अकल्पनीय मुनाफा बताकर आपको आसमान पर चढ़ा देता हो।

 ये कंपनियां शायद आपके क्षेत्र में भी सक्रिय हो, जो भोले-भाले लोगों को अपना शिकार बना रही है। 

कई लोगों की जुबान से ये बतियाते सुना है कि उसने फलां-फलां(xyz) कंपनी में एजेंट के माध्यम से बीमा करवाया था। कुछ दिन बाद एजेंट ने कंपनी छोड़ दिया तो वह अपना प्रीमियम जमा नहीं कर पाया और इसके लिए बहुत पापड़ बेले। फलस्वरूप उसको बीमा से हाथ धोना पड़ा और जमा किया पूरा रकम डूब गया।

आइये ऐसे कंपनियों को नजरअंदाज करें और गांव के ही डाकघर (पोस्ट ऑफिस) से Rural Postal Life Insurance (RPLI) यानि ग्रामीण डाक जीवन बीमा करें। इसमें कम प्रीमियम और बोनस अधिक मिलता है। प्रीमियम बहुत कम है जोकि 30-40 रुपये प्रतिमाह से शुरुआत है, सुविधानुसार चयन करें। इसके अलावा और भी कई फायदे हैं। अपने डाकघर में ही प्रीमियम जमा कर सकते है। यह डाक विभाग, भारत सरकार का विश्वसनीय उत्पाद(प्रोडक्ट) है। 

Rural Postal Life Insurance (आरपीएलआई) के लिए दस्तावेज
  • 1. आधार कार्ड की 1 छायाप्रति,
  • 2. पैन कार्ड या कक्षा पांचवी या आठवी या दसवीं या जन्म प्रमाणपत्र का 1 छायाप्रति,
  • 3. दो पासपोर्ट साइज फोटो।


Rural Postal Life Insurance Important FAQ in Hindi


कुछ चुनिंदा सवाल-जवाब जो आप सभी के जहन में होगा

सवाल 1 - आरपीएलआई की पॉलिसी कब लेनी चाहिए ?
जवाब - आरपीएलआई की पॉलिसी जितनी जल्दी लिया जाए उतनी ही फादेमंद है क्योंकि उम्र बढ़ने के साथ-साथ प्रीमियम भी बढ़ते जाता है और परिपक्वता राशि घटती जाती है। 

 किसी भी तरह का बीमा उत्पाद अथवा इन्वेस्टमेंट करने का उचित समय तब होता है जब आपके ऊपर किसी भी तरह की जिम्मेदारी नहीं होती, क्योंकि इस स्थिति में मानसिक व शारीरिक स्थिति बेहतर होती है। अक्सर देखा गया है कि गैर-जिम्मेदार व्यक्ति का सोच भविष्य की चिंता की ओर कतई नहीं रहता, जिम्मेदारी संभालते ही उसके अकल ठिकाने पड़ते हैं और बचत का जरिया तलाशने लगता है.

सवाल 2 - मैच्युरिटी उम्र यानि किस उम्र में परिपक्वता राशि लेनी चाहिए ?
जवाब - बीमा हमेशा लम्बे समय के लिए लेना चाहिए ताकि प्रीमियम कम पड़े और बीमा कवर भी रहे। अगर आपकी उम्र 18 से 35 के बीच है तो 50 की उम्र में परिपक्वता राशि लेना फायदेमंद होता है क्योंकि इस उम्र में मिलने वाले रकम आपके महत्वपूर्ण कामों में मदद करता है। जैसे कि बच्चे की उच्च शिक्षा, शादी, वगैरह।

सवाल 3 - पॉलिसी लेने के कुछ साल बाद प्रीमियम नहीं जमा कर सकें तो इस स्थिति में क्या होगा ?
जवाब - पॉलिसी लेने के तीन साल तक नियमित प्रीमियम जमा किया है तो सभी राशि वापस मिल जाएगी।  अगर तीन साल नहीं चले हैं और प्रीमियम जमा नहीं कर पा रहे हैं तो बाद में कभी भी पॉलिसी को नियमित करा सकते हैं जब रिवाइवल के लिए आदेश आए, वैसे सरकार समय-समय पर पॉलिसी रिवाइवल अभियान चलाती रहती है। 

सवाल 4 - भारतीय डाक जीवन बीमा पूरा होने के बाद भरे जाने वाले फार्म कहाँ से लायें?
जवाब - भारतीय डाक जीवन बीमा अथवा ग्रामीण डाक जीवन बीमा पूरा होने के बाद भरे जाने वाले फॉर्म को मैच्युरिटी क्लेम फॉर्म कहते हैं, जिसे भारतीय डाक के आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकता है. मैच्युरिटी क्लेम फॉर्म दिए गए लिंक से डाउनलोड कर सकते हैं - डाउनलोड डाक जीवन बीमा मैच्युरिटी क्लेम फॉर्म


सवाल 5 - डाक जीवन बीमा का प्रीमियम कैसे जमा करते हैं?
जवाब - डाक जीवन बीमा का प्रीमियम भारत के किसी भी उपडाकघर से जमा कर सकते हैं, इसके अलावा स्वयं ऑनलाइन जमा सकते हैं.

ग्रामीण डाक जीवन बीमा का प्रीमियम भारत के किसी भी शाखा डाकघर से जमा कर सकते हैं.

सवाल 6 - डाक जीवन बीमा की राशि जमा हो रही है कि नहीं कैसे पता चलेगा?
जवाब: डाक जीवन बीमा अथवा ग्रामीण डाक जीवन बीमा की राशि जमा हो रही है कि नहीं यह जानने के लिए ऑनलाइन बीमा जमा करने हेतु खाता बना सकते हैं, जहाँ पर भुगतान किये गए राशियों का विवरण दर्ज रहता है.

सवाल 7 - डाक जीवन बीमा 6 वर्ष से बंद है क्या दोबारा शुरू कर सकते हैं?
जवाब - जी हाँ, 6 वर्ष से बंद हो चुके डाक जीवन बीमा को दोबारा शुरू कर सकते हैं. इसके लिए डाकघरों में समय-समय पर पालिसी रिवाइवल का कार्यक्रम किया जाता है. पालिसी रिवाइवल हेतु निकटतम डाकघर से संपर्क करें.

सवाल 8 - डाक जीवन बीमा कोई भी कर सकता है?
जवाब - जी नहीं, डाक जीवन बीमा केवल शासकीय व अर्धशासकीय संस्था के कर्मचारी ही कर सकते हैं. ग्रामीण डाक जीवन बीमा केवल ग्रामीण लोग ही करा सकते हैं.

सवाल 9 - मैं रूरल पोस्टल लाइफ इंश्योरेंस सरेंडर करना चाहता हूँ क्या करूँ?
जवाब - रूरल पोस्टल लाइफ इंश्योरेंस अर्थात् आरपीएलआई को तीन वर्ष बाद कभी भी सरेंडर किया जा सकता है. सरेंडर करने के लिए डाकघर से संपर्क करें.

सवाल 10 - आरपीएलआई प्रीमियम कैलक्यूलेटर कहाँ मिलेगा?
जवाब - आरपीएलआई प्रीमियम कैलक्यूलेटर डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से Postinfo एप्लीकेशन इनस्टॉल करें अथवा नीचे दिए पीडीएफ डाउनलोड लिंक से पीडीएफ डाउनलोड करें. 

सवाल 11 - आरपीएलआई में कमीशन क्या मिलता है?
जवाब - आरपीएलआई में कमीशन नहीं मिलता क्योंकि यह केवल ग्रामीणों के कल्याण के लिए विशेष बीमा योजना है, जिस पर किसी एजेंट अथवा कर्मचारी को कमीशन नहीं दिया जाता.

सवाल 12 - आरपीएलआई के नियम और शर्त क्या है?
जवाब - आरपीएलआई के नियम और शर्त -
  • प्रीमियम नियमित जमा करें,
  • मासिक, त्रैमासिक, अर्धमासिक अथवा वार्षिक किसी भी प्रकार का प्रीमियम जमा कर सकते हैं,
  • दो से अधिक महीने का प्रीमियम एकमुश्त जमा करने पर कुछ राशि छुट मिलती है,
  • एक व्यक्ति एक से अधिक बीमा पालिसी करा सकता है,
  • गैर-मेडिकल बीमा के अपेक्षा मेडिकलकृत बीमा कराना चाहिए.

सवाल 13 - पीएलआई और आरपीएलआई के बीच क्या अंतर है?
जवाब - पीएलआई और आरपीएलआई के बीच निम्नलिखित अंतर है-
  • पीएलआई को केवल शासकीय व अर्धशासकीय संस्था के कर्मचारी ही करवा सकते हैं जबकि ग्रामीण डाक जीवन बीमा केवल ग्रामीण लोगों के लिए है,
  • पीएलआई का प्रीमियम आरपीएलआई की तुलना में कम पड़ता है,
  • पीएलआई की मैच्युरिटी राशि आरआरपीएलआई से अधिक रहती है,
  • पीएलआई में बीमाकर्ता के मेडिकल पर संशय आरपीएलआई की तुलना में कम रहता है.
  • पीएलआई का प्रीमियम उपडाकघर या उसके ऊपर के डाकघर में ही जमा करते हैं जबकि आरपीएलआई का प्रीमियम किसी भी शाखा डाकघर अथवा ग्रामीण डाकघर से जमा कर सकते हैं.

आरपीएलआई प्रीमियम और बोनस से सम्बंधित पीडीएफ फाइल डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए डाउनलोड लिंक पर क्लिक करें -

password : gaindlalsahu.com

To download the PDF file related to premium and bonus of RPLI, click on the download link given below -

password : gaindlalsahu.com

आरपीएलआई को वीडियो के माध्यम से समझें - 



Rural Postal Life Insurance in Hindi | Point to Point | Gaindlal P Sahu

Post a Comment

नया पेज पुराने



नोट: इस लेख को ग्रहण करने से पहले www.gaindlalsahu.com की डिस्क्लेमर अवश्य पढ़ लें.