डाकघर की बैंकिंग सेवाएं | Banking Services of Indian Post Office in Hindi
डाकघर की बैंकिंग सेवाएं (Banking Services of Indian Post Office in Hindi): भारतीय डाकघर पत्र वितरण और डाक टिकट बेचने के साथ-साथ कई प्रकार की बैंकिंग सेवाएं भी प्रदान करता है. इसका उद्देश्य भविष्य के लिए बचत करना है, यही कारण है कि यहाँ के ब्याज दर अन्यत्र बैंकों के ब्याज दर से अधिक रहते हैं. डाकघर की बैंकिंग सेवाएं (Banking Services of Indian Post Office) निम्नलिखित है -

डाकघर की बैंकिंग सेवाएं (Banking Services of Indian Post Office in Hindi)
  1. पोस्ट ऑफिस बचत बैंक खाता (POSB)
  2. सावधि जमा खाता (TD)
  3. आवर्ती जमा खाता (RD)
  4. सुकन्या समृद्धि खाता (SSA)
  5. राष्ट्रीय बचत पत्र (NSC)
  6. वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS)
  7. मासिक आय योजना (MIS)
  8. किसान विकास पत्र (KVP)
  9. लोक भविष्य निधि (PPF)

1. पोस्ट ऑफिस बचत बैंक खाता (POSB):
 
■ पोस्ट ऑफिस बचत बैंक खाता न्यूनतम 500 रूपये नगद देकर खोला जा सकता है. वर्तमान में (2021) इस पर 4 प्रतिशत की वार्षिक ब्याज दर से ब्याज की गणना होती है.

■ चेक सुविधा अथवा बिना चेक सुविधा के खाता में 500 रूपये न्यूनतम राशि रखना अनिवार्य है.

■ नॉमिनी सुविधा उपलब्ध है, कभी भी नॉमिनी बदल भी सकते हैं. खाता को भी एक पोस्ट ऑफिस से दुसरे पोस्ट ऑफिस में ट्रान्सफर कर सकते हैं.

■ पोस्ट ऑफिस बचत बैंक खाता में 10000 रूपये तक के ब्याज टैक्स फ्री रहता है.

■ 10 वर्ष से अधिक की उम्र के नाबालिक का भी खाता खोला जा सकता हैं. दो या तीन वयस्क लोग मिलकर जॉइंट अकाउंट खुलवा सकते हैं.

■ खाता सक्रीय (active) रखने के लिए तीन वर्ष में कम से कम एक बार लेनदेन करना आवश्यक है.

■ कोई भी कहीं का भी CBS (Core Banking Solution) डाकघर में राशि का आहरण व निकासी किया जा सकता है.

2. सावधि जमा खाता (TD)

■ कोई भी वयस्क व्यक्ति एकल या दो वयस्क व्यक्ति मिलकर जॉइंट अकाउंट खुलवा सकता है. किसी संस्था, चैरिटी, समूह को यह खाता खोलने की अनुमति नहीं है.

■ न्यूनतम 1000 रूपये से व 100 रूपये के गणक में सावधि जमा खाता (TD) खुलवाया जा सकता है.

■ 1 वर्ष, 2 वर्ष, 3 वर्ष और 5 वर्ष का सावधि जमा खाता खुल सकता है.

■ छः माह के बाद यह खाता बंद कराया जा सकता है. एक वर्ष से पहले और छः माह के बाद खाता बंद कराने पर बचत बैंक खाता में मिलने वाले ब्याज दर के बराबर का ब्याज मिलेगा. 1 वर्ष के बाद खाता बंद कराने पर जो सावधि खाता ब्याज दर है यही दर में राशि मिलगी.

■ वर्तमान में सावधि जमा खाता पर मिलने वाली ब्याज दर निम्नलिखित है -
  • 1 वर्ष की सावधि जमा खाता में: 5.5%
  • 2 वर्ष की सावधि जमा खाता में: 5.5%
  • 3 वर्ष की सावधि जमा खाता में: 5.5%
  • 5 वर्ष की सावधि जमा खाता में: 6.7%
■ 5 वर्ष की सावधि जमा खाता में मिलने वाली ब्याज दर पर सेक्शन 80C के तहत आयकर टैक्स में छुट मिलती है.

3. आवर्ती जमा खाता (RD)

■ कोई भी वयस्क व्यक्ति एकल या दो वयस्क व्यक्ति मिलकर जॉइंट अकाउंट खुलवा सकता है.

■ छः महीने की एडवांस किश्त जमा करने पर 1% की रिबेट (छूट) और एक वर्ष की एडवांस किश्त जमा करने पर 2% की रिबेट (छूट) मिलती है.

■ अधिकतम चार डिफाल्ट की अनुमति है, चार से ज्यादा डिफ़ॉल्ट होने पर खाता निष्क्रिय हो जाता है, जिसे सक्रीय करने के लिए प्रधान डाकघर भेजा जाता है.

■ वर्तमान में आवर्ती जमा खाता में 5.8% वार्षिक ब्याज दर है. अगर परिपक्वता (Maturity) से पहले खाता बंद करते हैं तो 4% यानि बचत खाता के बराबर ब्याज दर मिलेगा. तीन वर्ष के बाद खाता बंद किया सकता है.

■ एक वर्ष बाद इस खाता में कुल जमा राशि की 50% राशि 10.5% की दर से लोन ले सकते हैं.

■ न्यूनतम 100 रूपये से व 10 रूपये के गणक में आवर्ती जमा खाता (RD) खुलवाया जा सकता है.

4. सुकन्या समृद्धि खाता (SSA):

People also search for

डाकघर की बैंकिंग सेवाएं (Banking Services of Indian Post Office in Hindi) के बारे में अधिक जानकारी और विभागीय परीक्षा की तैयारी के लिए पीडीएफ बुक डाउनलोड करें, Download Now.

■ न्यूनतम 250 रूपये से सुकन्या समृद्धि खाता खुलवाया जा सकता है.

■  एक वित्तीय वर्ष में इस खाता में कम से कम 250 रूपये जमा होना चाहिए, अधिकतम 150000 तक एक वर्ष में जमा किया जा सकता है.

■ किसी वित्तीय वर्ष न्यूनतम 250 रूपये की लेनदेन नहीं हुआ हो या एक भी लेनदेन नहीं हुआ हो तो अगले वित्तीय वर्ष में 50 रूपये प्रति वित्तीय वर्ष डिफाल्ट शुल्क लगता है.

■ इस खाता में 15 वर्ष तक राशि जमा करना होता है और खाता को 21 वर्ष पूर्ण होने पर परिपक्व (maturity) होती है. बालिका के शादी होने पर भी यह खाता परिपक्व हो जाती है.

■ बालिका के 18 वर्ष होने पर खाता में जमा राशि का 50% राशि लोन ले सकते हैं. लोन का ब्याज दर 10.5% सालाना है.

5. राष्ट्रीय बचत पत्र (NSC):

■ राष्ट्रीय बचत पत्र दो प्रकार के हैं - 1) राष्ट्रीय बचत पत्र VIII और 2) राष्ट्रीय बचत पत्र IX

■ राष्ट्रीय बचत पत्र VIII उन्ही लोगों के लिए जो आयकर टैक्स जमा करते हैं, जैसे - शासकीय कर्मचारी, उद्योगपति, व्यापारी.

■ राष्ट्रीय बचत पत्र VIII में ब्याज दर 6.8% है. निवेश करने की कोई अधिकतम सीमा नहीं, ना ही आयकर में छुट.

■ राष्ट्रीय बचत पत्र IX सामान्य नागरिकों के लिए है जो आयकर टैक्स नहीं जमा करते.

■ राष्ट्रीय बचत पत्र IX में 8.8 प्रतिशत का ब्याज मिलता है.

■ वयस्क व्यक्ति एकल रूप से यह खाता खुलवा सकता है, इसे जॉइंट के रूप में नहीं खुलवाया जा सकता.

■ न्यूनतम 1000 रूपये से यह खाता खुलवाया जा सकता है.

6. वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS):

■ 60 वर्ष से अधिक के उम्र के व्यक्ति वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS) का खाता खुलवा सकता है.

■ स्वैच्छिक सेवानिवृत लेने वाले ऐसे व्यक्ति जिनकी उम्र 55 वर्ष से अधिक व 60 से कम है व सेवानिवृत के एक महीने के अन्दर यह खाता खुलवा सकता है.

■ 1000 रूपये से वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS) का खाता खुलवा सकता है.

■ इसे केवल जीवनसाथी के साथ ही जॉइंट खाता खुलवा सकते हैं.

■ एक वर्ष के बाद इस खाता को बंद कर सकते है. एक वर्ष के बाद खाता बंद करने पर कुल जमा राशि का 1.5% काट लिया जायेगा. 2 वर्ष के बाद खाता बंद करने पर 1% राशि काटा जायेगा.

 ■ ब्याज की गणना तिमाही की जाती है. जनवरी, अप्रैल, जुलाई, अक्टूबर माह के प्रथम तारीख को ब्याज की राशि प्राप्त हो जाती है.

■ 1 लाख रूपये तक के जमा वाले खाते को ट्रान्सफर करने पर कोई शुल्क नहीं लिया जाता. 1 लाख रूपये से अधिक जमा वाले खाता को ट्रान्सफर करने पर 100 रूपये प्रति लाख के हिसाब से शुल्क लिया जाता है. मानलो किसी ने 5 लाख रूपये का वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS) खाता खुलवाया है और इस खाता को किसी दुसरे डाकघर में ट्रान्सफर करता है तो उसे 4 लाख रूपये का 100 रूपये प्रति लाख के हिसाब से शुल्क 400 रूपये चुकाने होंगे.

7. मासिक आय योजना (MIS):

■ सिंगल मासिक आय योजना (MIS) खाता में अधिकतम 4.5 लाख रूपये जमा कर सकते हैं जबकि दो व्यक्ति वाले ज्वाइन खाता में 9 लाख रूपये तक जमा किया जा सकता है.

■ इस खाते को कम से कम 1000 रूपये देकर खुलवाया जा सकता है. यह खाता पांच वर्ष बाद परिपक्व (maturity) होती है.

■ एक वर्ष बाद मासिक आय योजना (MIS) खाता को बंद किया जा सकता है. एक वर्ष बाद बंद करने पर कुल जमा राशि का 2% और तीन वर्ष बाद बंद करने पर कुल जमा राशि का 1% राशि काट लिया जाता है.

8. किसान विकास पत्र (KVP):

■ किसान विकास पत्र (KVP) खाता 9 वर्ष 5 माह में परिपक्व (maturity) होती है.

■ न्यूनतम 1000 रूपये से व 100 रूपये के गणक में किसान विकास पत्र (KVP) खाता खुलवाया जा सकता है.

■ 30 माह बाद अथवा ढाई वर्ष बाद इस खाता को बंद किया सकता है.

9. लोक भविष्य निधि (PPF):

■ लोक भविष्य निधि (PPF) खाता 500 रूपये नगद देकर खुलवा सकते हैं. परिपक्वता पर मिलने वाली राशि टैक्स फ्री होती है.

■ वर्तमान में लोक भविष्य निधि (PPF) खाता पर 7.1% की ब्याज दर है.

■ इस खाते में एक वित्तीय वर्ष में कम से कम 500 रूपये जमा करना आवश्यक है.

■ एक वर्ष में अधिकतम 12 लेनदेन किये जा सकते हैं यानि 12 बार इस खाते में राशि जमा कर सकते हैं.

■ खाते की परिपक्वता अवधि 15 वर्ष है. परिपक्व होने के पश्चात् चाहे तो 5 वर्ष तक आगे बढाया जा सकता है.

■ पांच वर्ष बाद विशेष परिस्थिति में इस खाता को बंद कर सकते हैं.

■ सात वर्ष बाद इस खाता से राशि निकाली जा सकती है.
और नया पुराने



नोट: इस लेख में किसी भी प्रकार की आपत्ति हो तो www.gaindlalsahu.com की डिस्क्लेमर अवश्य पढ़ लें.


ms office all in one notes in hindi pdf download